• July 16, 2024

*अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पीआईआईटी कॉलेज ने जितेन्द्र बच्चन को किया सम्मानित*

 *अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पीआईआईटी कॉलेज ने जितेन्द्र बच्चन को किया सम्मानित*

गौतमबुद्ध नगर

*अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पीआईआईटी कॉलेज ने जितेन्द्र बच्चन को किया सम्मानित*


गौतमबुद्ध नगर। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर पीआईआईटी कॉलेज ग्रेटर नोएडा द्वारा योग शिविर का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि कुमायूं एवं गढ़वाल यूनिवर्सिटी उत्तराखंड के पूर्व कुलपति प्रोफेसर डॉ बलवंत सिंह राजपूत, सर्वोच्च न्यायालय दिल्ली के वरिष्ठ अधिवक्ता कौशिक कुमार दत्त और फ्री-ए-गर्ल इंडिया की निदेशक संजना खातून ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर किया। मंच का सफल संचालन अधिवक्ता प्रोफेसर बी. एस. रावत ने किया।
संस्थान के अध्यक्ष प्रोफेसर डॉक्टर भरत सिंह ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की 10वी वर्षगांठ के अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित समाज कल्याण फेडरेशन ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष व वरिष्ठ पत्रकार जितेन्द्र बच्चन और राष्ट्रीय संरक्षक नंद गोपाल वर्मा को पुष्प गुच्छ एवं प्रतीक चिन्ह देकर स्वागत- सम्मानित किया। साथ ही उन्होंने आभार जताते हुए कहा कि यह हमारे लिए सौभाग्य की बात है कि आप जैसे समाज सुधारक एवं बुद्धिजीवी इस अंतर्राष्ट्रीय दिवस पर पीआईआईटी शिक्षण संस्थान में आए और हमारा व हमारे बच्चों का मार्गदर्शन किया।
10वें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर नॉलेज पार्क ग्रेटर नोएडा स्थित पीआईआईटी कॉलेज में आयोजित योग शिविर को संबोधित करते हुए चिंतक एवं वरिष्ठ पत्रकार जितेन्द्र बच्चन ने कहा कि बीते दस साल में योग के विस्तार से इसको लेकर लोगों की धारणाओं में सकारात्मक बदलाव आया है। देश-दुनिया के बड़े-बड़े संगठन और प्रतिष्ठान-संस्थान अपने सदस्यों व कर्मचारियों के लिए मानसिक और शारीरिक फिटनेस में योग कार्यक्रम शामिल कर रही हैं। योग प्रशिक्षक नियुक्त किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि योग एक संतुलनकारी क्रिया है। शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक और आत्मिक पहलुओं को एकीकृत कर योग स्वास्थ्य और कल्याण के लिए एक समग्र मार्ग प्रदान करता है। आप भी योग को अपने जीवन का हिस्सा बनाने का संकल्प लें और इस परिवर्तनकारी यात्रा पर चलें।
योग शिविर में योग परीक्षक जतनवीर सिंह चौधरी, मैडम संतोष चौधरी, सिद्धनाथ चतुर्वेदी एवं सुखपाल सिंह ने योग को सफल एवं स्वस्थ जीवन के लिए आवश्यक बताते हुए विभिन्न आयाम एवं प्राणायाम का अभ्यास कराया। बच्चों एवं शिक्षकों ने सूर्य नमस्कार, भुजंगासन, कपालभाति आदि व प्राणायाम का लाभ उठाया। संस्थान की समन्वयक श्रीमती मिथिलेश एव वित्तीय कंट्रोलर श्रीमती जागेश ने वंदे मातरम गीत प्रस्तुत किया। संस्थान के निदेशक आरके शाक्य ने सभी अतिथियों के प्रति उनका आभार जताया है।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.