• April 21, 2024

अपने ही एक माह के नाती की अपहरण करता निकली मौसेरी नानी, चंद रुपयों के लिए बेच दी ममता।

 अपने ही एक माह के नाती की अपहरण करता निकली मौसेरी नानी, चंद रुपयों के लिए बेच दी ममता।

ग्रेटर नोएडा

अपने ही एक माह के नाती की अपहरण करता निकली मौसेरी नानी, चंद रुपयों के लिए बेच दी ममता।

रिपोर्ट :- योगेश राणा

ग्रेटर नोएडा: आज तक अपने पैसों के लिए मां-बाप भाई बहन को आपस में लड़ते हुए अक्सर देखा होगा या सुना होगा मगर ग्रेटर नोएडा की कोतवाली बिसरख से एक बड़ा हैरान करने वाला मामला सामने आया है जहां चंद रुपयों के लिए मौसेरी नानी ने ही अपने नाती को एक डॉक्टर को बेंच दिया। इस पूरी घटना का खुलासा ग्रेटर नोएडा की कोतवाली बिसरख पुलिस ने किया है, पुलिस के मुताबिक आज से ठीक आठ महीने पहले ग्रेटर नोएडा की बिसरख कोतवाली क्षेत्र के शाहबेरी से एक माह के बच्चे की अपहरण की खबर सामने आई थी। जो कि पुलिस महकमे के लिए एक बड़ी सिर दर्दी बन गई थी और इस मामले में पुलिस की कई टीमें के साथ सर्विलान्स व इलैक्ट्रोनिक टीमें भी पिछले आठ महीने से इस गुत्थी को सुलझाने के लिए

कार्य कर रही थी, इसी बीच पुलिस टीम से मिले इनपुट के आधार पर एक बबीता (अपहृत बच्चे की मौसेरी नानी) को पुलिस ने धर दबोचा और जब पुलिस ने बबीता से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने बताया कि मैं ग्राम शाहबेरी में किराये पर रहती थी जहां अपहृत हुए बच्चों की मां भी उसी मकान में शिवांगी भी किराये पर रहती थी,दिनांक 10.05.2023 को शिवांगी किसी जरूरी काम के लिए घर से बाहर गई हुई थी तो मैंने ही उसके एक माह के बच्चे को टीका लगवाने के बहाने से घर से अपहरण करके जमुना उर्फ शिवानी पत्नी ब्रजेश निवासी मुरादपुर थाना कोतवाली देहात हापुड के यहां ले गई थी। जहां जमुना के साथ मै पहले क्रासिंग रिपब्लिक सोसाइटी गाजियाबाद में काम करती थी और जमुना ने ही मुझे बताया था कि मेरे जानने वाले एक डाक्टर हापुड में है जिनके जानकारों को एक बच्चे ( लड़के) की

आवश्यकता है, इस के बदले में वह मुंह मांगे पैसे दे देंगे। इसी लालच में आकर मैे बच्चे का अपहरण कर उसे जमुना के पास ले गई थी। जहां जमुना ने डाक्टर की सहायता से डाक्टर के जानने वालों को बच्चा बेच दिया था इस आधार पर 16.01.2024 को जनपद हापुड़ की लज्जा कालोनी में ग्रेटर नोएडा पुलिस ने दबिश दी जहां से जमुना उर्फ शिवानी को हापुड़ देहात के मुरादपुर थाने से गिरफ्तार किया। जब जमुना से अपहृत बच्चे की जानकारी की ली तो उसने बताया कि बबीता शर्मा मेरे पास बच्चा अपहरण करके लेकर लायी थी जिसे मैंने एवं डाक्टर दीपक त्यागी के संग मिलकर 2 लाख रुपयों में अमरवीर नामक व्यक्ति को बेच दिया था, डाक्टर त्यागी ही अमरवीर का घर जानते है, डाक्टर दीपक त्यागी की निशानदेही पर पुलिस की टीम ने ग्राम श्यामपुर जटपुरा पर दबिश देकर अमरवीर के यहां से बच्चा बरामद किया,जो कि अब लगभग 9 माह का हो चुका है।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.