• April 21, 2024

गांव के अस्तित्व के साथ हो रहे सौतेले व्यवहार पर न्यूज नेस्ट की खबर का बड़ा असर! 

 गांव के अस्तित्व के साथ हो रहे सौतेले व्यवहार पर न्यूज नेस्ट की खबर का बड़ा असर! 

नोएडा

गांव के अस्तित्व के साथ हो रहे सौतेले व्यवहार पर न्यूज नेस्ट की खबर का बड़ा असर! 

रिपोर्ट :- योगेश राणा

 

नोएडा: कहने को तो नोएडा को नोएडा विकास प्राधिकरण ने बसाया है मगर उस के पहले इस शहर की पहचान यहां के गांवों से हुआ करती थे मगर समय के साथ प्राधिकरण की प्राथमिकताएं पूंजीवादियों के लिए एक दम से बदल गई और नोएडा विकास प्राधिकरण की प्राथमिकताओं में केवल सेक्टर ही रह गय है जबकि गांव आज भी अपने विकास के अस्तित्व को तलाश रहा है और दुर्दशा की मार झेल रहा है मगर कहते हैं ना कि “तू हौसले की नींव मजबूत रख मंजिल तुझे एक ना एक दिन मिल ही जाएगी” इस लिए गांव आज भी अपने हौसले की नींव पर खड़ा हो कर अपनी बारी का इंतजार / तलाश कर रहा है और इस लिए तो कहते हैं कि संघर्ष बिना मिले ना हीरे मोती तो गांव की हक की लड़ाई लड़ रहे हैं युवा टीम सर्फाबाद के अध्यक्ष सोनू यादव ने नोएडा विकास प्राधिकरण पर गांव की अपेक्षा करने का आरोप लगाया था साथ ही साथ सोनू यादव ने कहा था कि शहर की मुख्य सड़कों पर लगे हुए दिशा सूचक बोर्ड पर गांवों के नाम को स्थान न दिया जाना ग्रामीण परिवेश का अपमान करने के समान है, सवाल खड़े करते हुए कहा कि गांव को लेकर नोएडा प्राधिकरण के अधिकारियों की मानसिकता बिल्कुल भी नहीं बदलीं है और इसी को देखकर पता चलता है कि गांव और गरीब प्राधिकरण की प्राथमिकताओं में शामिल नहीं है इस लिए तो प्राधिकरण बार बार गांवों की अपेक्षा करता आया है इस खबर को न्यूज नेस्ट की टीम ने इस मुद्दे को प्रमुखता से उठाया और नतीजा यह रहा कि नोएडा विकास प्राधिकरण को नोएडा के गांव को प्रदर्शित करने वाले बोर्ड गांव के बाहर जगह जगह लगा दिया है।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.