• April 21, 2024

*धर्म का ज्ञान देने वाले एवं फूलों को सींचने वालें माली और पंडित ने मिलकर रची फर्जी डकैती की कहानी*

 *धर्म का ज्ञान देने वाले एवं फूलों को सींचने वालें माली और पंडित ने मिलकर रची फर्जी डकैती की कहानी*

नोएडा

*धर्म का ज्ञान देने वाले एवं फूलों को सींचने वालें माली और पंडित ने मिलकर रची फर्जी डकैती की कहानी*

नोएडा : नोएडा पुलिस ने महज़ 8 घंटो में सुलझाया फर्जी डकैती का मामला। नोएडा के सेक्टर 30 में रहने वाले एक बड़े व्यापारी ने नोएडा पुलिस को लिखित तहरीर दी थी की 

वह पिछले कुछ दिनों से निजी कारणों से मथुरा गए चल गए थे बुधवार की सुबह उनके घर में कार्यरत माली सुग्रीव व पुजारी मनीष अवस्थी ने उन्हें सूचना दी कि आज तडक़े हथियारबंद बदमाशों ने घर में धावा बोलकर डकैती की वारदात को अंजाम दिया है और बदमाशों ने घर में रखी तिजोरी का लॉकर तोडकऱ नगदी व अन्य सामान को लूट कर फरार हो गए इस सूचना को गंभीरता से लेते हुए अपर पुलिस उपायुक्त आशुतोष द्विवेदी व एसीपी प्रथम रजनीश वर्मा एवं थाना प्रभारी मनोज सिंह ने घटनास्थल पर जाकर जांच पड़ताल की। पुजारी मनीष अवस्थी व माली सुग्रीव ने बताया कि रात्रि में माली को दो बदमाशों ने एवं पुजारी को तीन बदमाशों ने बंधक बना लिया और उनके साथ मारपीट की गई तथा अन्य बदमाशों ने घर में घुसकर तिजोरी को काटकर नगदी, जेवरात लेकर गए है। साथ ही सीसीटीवी कैमरे के डी0वी0आर0 को भी काटकर ले गए है। इन दोनों के बयानों में पुलिस को खासा विरोधभास दिखा और

 

घटनास्थल के निरीक्षण के दौरान पुलिस को कई चीजे संदिग्ध दिखी जिस कारण पुलिस का शक मनीष अवस्थी और सुग्रीव पर गहरा गया और जब दोनों से सख्ती से पूछताछ की गई तो उन्होंने घर में चोरी की वारदात को अंजाम देना स्वीकार किया। आरोपियों ने बताया कि उन्होंने प्लान के तहत घटना को अंजाम दिया। इसके लिए उन्होंने बकायदा दरवाजे के मुख्य द्वार पर लगे लॉक को तोडक़र सीसीटीवी कैमरों के तार काट दिए। सीसीटीवी कैमरे से कनेक्ट एलसीडी को भी उन्होंने तोड़ दिया और डीवीआर को भी गायब कर दिया। इसके बाद उन्होंने इत्मीनान से घर के अंदर रखी अलमारी का लॉकर तोडकऱ उसमें से 12.50 लाख रुपए की नकदी निकाल ली। चोरी के पैसों को उन्होंने पड़ोस के ही प्लॉट में करीब 10 फीट गहरा गड्ढा खोदकर दबा दिया। डीसीपी ने बताया कि आरोपियों की निशानदेही पर घर से चोरी किए गए लाखों रुपए व अन्य सामान को बरामद कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि पुजारी मनीष अवस्थी करीब 5 साल तथा सुग्रीव 2 साल से व्यवसाई के यहां काम कर रहे थे और जब भी कारोबारी घर के बाहर जाया करते थे तो मकान की पूर्ण जिम्मेदारी पुजारी को ही दे देते थे परंतु दोनों के लालच ने व्यापारी की अटूट विश्वास की हत्या कर दी वहीं थाना सेक्टर 20 पुलिस आयुक्त लक्ष्मी सिंह की आकांक्षाओं पर खरी उतरती दिखाई दे रही है और लगातार अपराधिक घटनाओं का सफल अनवरन कर रही है।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.