• July 16, 2024

नोएडा पुलिस की तीसरी आंख को गायब करने वाले तूफानी गैंग का कोतवाली -39 ने किया खुलासा।

 नोएडा पुलिस की तीसरी आंख को गायब करने वाले तूफानी गैंग का कोतवाली -39 ने किया खुलासा।

नोएडा

*नोएडा पुलिस की तीसरी आंख को गायब करने वाले तूफानी गैंग का कोतवाली -39 ने किया खुलासा*

रिपोर्ट :- योगेश राणा

नोएडा: नोएडा शहर में अपराधीक घटनाओं पर विराम लगाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने स्मार्ट सिटी योजना के अन्तर्गत नोएडा शहर में जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे। साथ ही साथ यह कैमरे चौबीसों घंटे चालू रहे इसको ध्यान में रखते हुए जगह सीसीटीवी कैमरों के साथ बैटरी भी जगह-जगह लगाईं गई थी ताकि शहर में होने वाले हर एक अपराध की जानकारी पुलिस को तीसरी आंख से मिल सके। मगर पुलिस की यह तीसरी आंख तूफानी गैंग को चुभने लगी थी इस लिए इस गैंग ने नोएडा शहर में अनेकों जगह सीसीटीवी कैमरे के साथ लगी बैटरी को चोरी कर चोरी की घटनाओं को अंजाम दे रहे थे।

 

 

नोएडा डीसीपी हरिचंद ने बताया कि तुफानी गैंग ने अब तक लगभग 150 से अधिक बैटरी चोरी की वारदातों को अंजाम दिया है। जिसके लिए नोएडा के विभिन्न अलग-अलग थानों पर अभियोग पंजीकृत है। डीसीपी नोएडा ने आगे बताया कि तूफानी गैंग दिन के समय टाटा ऐस व ई-रिक्शा में घूम-घूमकर सीसीटीवी कैमरो के स्थानों की रैकी करते थे और रात्रि में गैंग बनाकर घटना को अंजाम देते थे और अधिकांश घटनाओं को खराब मौसम के समय अंजाम देते थे क्योंकि खराब मौसम में बिजली चले जाने के कारण चारो तरफ अंधेरा हो जाता था तथा एक्सप्रेस-वे, हाईवे व चौराहो पर वाहनो का आवागमन भी कम रहता था और इसी का फायदा उठाकर घटनाओं को अंजाम देते थे और इकट्ठा होने पर चोरी की हुई बैटरी को मोटे मुनाफे में कबाडी को बेच देते थे और मोटा मुनाफा कमाते थे और अपने काम करने की गति को देखकर के अपनी गैंग का नाम तूफानी गैंग रख लिया था‌। गैंग का मुखिया तूफानी गुप्ता एवं उसका साथी राजकुमार अपने परिवार व समाज की नजर में दिल्ली सब्जी मण्डी तथा फेस-2 सब्जी मण्डी से सब्जी लाने का काम करने का झूठा नाटक करते थे ताकि किसी को इन पर संदेह ना‌ हो। मगर थाना कोतवाली -39 ने इस गैंग का खुलासा कर इस गैंग के मुखिया सहित सभी सदस्यों को नोएडा के सेक्टर-96, अण्डरपास के पास से गिरफ्तार किया है‌,पुलिस को इनके कब्जे से 54 बैट्री, तीन अवैध चाकू, एक अवैध तमंचा .315 बोर मय 02 जिन्दा कारतूस .315 बोर, एक टाटा ऐस गाड़ी रजि0 नं0-डीएल 1 एलएएफ 0289, एक ई-रिक्शा

रजि0नं0-यूपी 16 केटी 0712, एक इलैक्ट्रिक स्कूटी रजि0 नं0-डीएल 9 जीडी 1587, एक प्लास, 02 पेचकस बरामद किये गये है।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.