• July 13, 2024

पाकिस्तान को बड़ा झटका, छिन गई एशिया कप की मेजबानी! इस देश में होगा सकता है टूर्नामेंट

 पाकिस्तान को बड़ा झटका, छिन गई एशिया कप की मेजबानी! इस देश में होगा सकता है टूर्नामेंट

पाकिस्तान की एशिया कप आयोजन करने की उम्मीदों को सोमवार (आठ मई) को बड़ा झटका लगा। एशियन क्रिकेट काउंसिल (एसीसी) ने उससे मेजबानी वापस लेने का फैसला किया है। पाकिस्तान ने टूर्नामेंट के आयोजन के लिए एक अजीबोगरीब योजना तैयार किया, जिसे एसीसी ने खारिज किया। इसके तरह भारत को अपने मैच यूएई में खेलने थे। वहीं, पाकिस्तान बाकी मैचों की मेजबानी करता।

अब इस टूर्नामेंट का आयोजन श्रीलंका में हो सकता है, क्योंकि सितंबर के महीने में संयुक्त अरब अमीरात में अत्यधिक गर्मी के कारण खिलाड़ियों को चोट लग सकती है। ऐसे में छह देशों के इस टूर्नामेंट की मेजबानी श्रीलंका को मिल सकती है। यह देखना दिलचस्प होगा कि इस अनदेखी के बाद पाकिस्तान दो से 17 सितंबर तक होने वाले टूर्नामेंट में भाग लेता है या नहीं।

भारत ने किया था पाकिस्तान दौरे से इनकार
बीसीसीआई द्वारा दोनों देशों के बीच राजनयिक तनाव के कारण भारतीय टीम को पड़ोसी देश भेजने से इनकार करने के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) को एक वैकल्पिक प्रस्ताव देने के लिए मजबूर होना पड़ा। पीसीबी ने प्रस्ताव दिया था कि भारत अपने खेल यूएई में खेले जबकि पाकिस्तान अपने मैचों की मेजबानी घरेलू धरती पर करे।

बीसीसीआई को मिला श्रीलंका और बांग्लादेश का साथ
एशियन क्रिकेट काउंसिल के एक सूत्र ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा, ”पीसीबी अध्यक्ष नजम सेठी समर्थन प्राप्त करने के लिए आज दुबई में थे। हालांकि, पाकिस्तान के कराची या लाहौर में अपने खेल खेलने और भारत के संयुक्त अरब अमीरात में खेलने के उनके प्रस्ताव को किसी का साथ नहीं मिला। श्रीलंका हमेशा बीसीसीआई के साथ था और अब बांग्लादेश भी क्रिकेट बोर्ड इस विचार के खिलाफ लग रहा था।”

सूत्र ने आगे कहा, ”एसीसी ने हमेशा कहा है कि सैद्धांतिक रूप में ‘हाइब्रिड मॉडल’ अस्वीकार्य है और बजटीय प्रतिबंधों को कभी पारित नहीं किया जा सकता है। इसके अलावा यह पाकिस्तान के अपने मैचों की मेजबानी करने के बारे में नहीं है। इसका मतलब यह भी है कि अगर भारत और पाकिस्तान एक ही समूह में हैं, तो तीसरी टीम दुबई और पाकिस्तान के एक शहर के बीच यात्रा करेगी।”
ब्रॉडकास्टर को होगी समस्या
सुरक्षा व्यवस्था की बढ़ती लागत के कारण संयुक्त अरब अमीरात में पाकिस्तान सुपर लीग के मैचों की मेजबानी करने का पीसीबी का हालिया निर्णय ने आग में घी डालने का काम किया। सूत्र ने आगे कहा, ”तार्किक रूप से ब्रॉडकास्टर दो देशों में अलग-अलग इकाइयां नहीं भेजना चाहेंगे। श्रीलंका की तरह यूएई को अंतर-शहर उड़ानों की आवश्यकता नहीं है, चाहे आप प्रेमदासा स्टेडियम, एसएससी, गॉल या कैंडी में खेलें।”

हालांकि, एसीसी के अध्यक्ष जय शाह को निर्णय को आधिकारिक बनाने के लिए एक कार्यकारी निकाय की बैठक बुलानी होगी। मौजूदा स्थिति में पाकिस्तान इस आयोजन में भाग लेता है या विश्व कप के लिए भारत आने के खिलाफ फैसला करता है, यह देखना बाकी है। सूत्र ने कहा, “यहां तक कि आईसीसी भी पाकिस्तान को भारत के बाहर अपने मैच खेलने (विश्व कप के दौरान) के लिए सहमत नहीं होगा। ऐसे में देखते हैं कि पीसीबी क्या फैसला करता है।”

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.