• May 22, 2024

मारुति सुजुकी आपूर्ति के मुद्दों का सामना कर रही है, जांचें कि यह आपकी कार की डिलीवरी को कैसे प्रभावित करेगा

 मारुति सुजुकी आपूर्ति के मुद्दों का सामना कर रही है, जांचें कि यह आपकी कार की डिलीवरी को कैसे प्रभावित करेगा

भारत की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड (एमएसआईएल) को मौजूदा वित्तीय वर्ष में सेमीकंडक्टर की कमी के कारण आपूर्ति-पक्ष की बाधाओं के प्रति संवेदनशील रहने की उम्मीद है, बावजूद इसके कि कई चैनलों के माध्यम से इलेक्ट्रॉनिक घटकों की सोर्सिंग की जाती है। पिछले वित्त वर्ष में, कंपनी इसी मुद्दे के कारण लगभग 1.7 लाख यूनिट का उत्पादन नहीं कर सकी थी। कंपनी अब अपनी कारों में कुछ प्रकार के चिप्स के उपयोग को कम करने की कोशिश कर रही है, जिसमें कुछ मॉडलों से उन्हें हटाना भी शामिल है, जहां उनकी आवश्यकता नहीं है। हालाँकि, यह अभी भी आपूर्ति श्रृंखला व्यवधानों के लिए अतिसंवेदनशील है।

इन आपूर्ति मुद्दों के एवज में मारुति सुजुकी के कुछ मॉडल वर्तमान में बाजार में उच्च प्रतीक्षा अवधि का सामना कर रहे हैं। उदाहरण के लिए मारुति सुजुकी एर्टिगा सीएनजी की अनुमानित प्रतीक्षा अवधि 11 महीने तक है।

एक विश्लेषक कॉल में बोलते हुए, एमएसआई के कार्यकारी अधिकारी (कॉरपोरेट अफेयर्स) राहुल भारती ने कहा कि सेमीकंडक्टर की कमी एक वैश्विक समस्या है जो विभिन्न मॉडलों और कंपनियों को अलग तरह से प्रभावित कर सकती है। उन्होंने पुष्टि की कि कंपनी इस मुद्दे को हल करने के लिए वैश्विक स्तर पर बातचीत कर रही है। भारती ने यह भी उल्लेख किया कि कंपनी ग्रैंड विटारा में पेश की गई मजबूत हाइब्रिड तकनीक को और अधिक मॉडलों में लॉन्च करने की योजना बना रही है।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.