• April 18, 2024

सपा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष एवं वरिष्ठ नेता श्रीपाल अवाना ने ठोकी लोकसभा टिकट की दावेदारी,”बोले ‘मेरी 100% इच्छा'”

 सपा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष एवं वरिष्ठ नेता श्रीपाल अवाना ने ठोकी लोकसभा टिकट की दावेदारी,”बोले ‘मेरी 100% इच्छा'”

नोएडा

सपा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष एवं वरिष्ठ नेता श्रीपाल अवाना ने ठोकी लोकसभा टिकट की दावेदारी,”बोले ‘मेरी 100% इच्छा'”

रिपोर्ट :- योगेश राणा

 

नोएडा: सपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व जिला उपाध्यक्ष श्रीपाल अवाना ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि वो चुनाव लड़ने के पूरी तरह से इक्षुक है।उन्होंने कहा कि टिकट देना या ना देना इसका फैसला पार्टी को करना है मगर मैं लोकसभा चुनाव लड़ना चाहता हूं इस के लिए बाकायदा लिखित में शीर्ष नेतृत्व अवगत कराया गया है।

 

 

*”चुनाव लड़ने की जताई इच्छा”*

 

नोएडा मीडिया क्लब में पत्रकारों से बात करते हुए सपा नेता श्रीपाल अवाना ने कहा कि मुझे लोकसभा चुनाव लड़ने की इच्छा है परन्तु यह शीर्ष नेतृत्व को तय करना है अगर पार्टी का शीर्ष नेतृत्व का आशीर्वाद मिलता है तो पूरी तन्मयता से चुनाव लड़ूंगा लेकिन टिकट नहीं मिला तो चुनाव नहीं लड़ूंगा मगर मुझे अपने शीश नेतृत्व पर पूरा भरोसा है कि गौतम बुद्ध नगर सीट के लिए वह मेरे पर पूरा भरोसा जताएंगे क्योंकि मैं सपा पार्टी का एक सच्चा कार्य करता हूं और मैं पार्टी के स्थापना के समय से पार्टी से जुड़ा हुआ हूं और मैं एक सच्चा समाजवादी हूं धरतीपुत्र स्वर्गीय श्री मुलायम सिंह को अपना आदर्श नेता मानता हूं और उन्हीं से संघर्ष करना सीखा है हर जोर जालम की टक्कर पर संघर्ष हमारा नारा है आदर्श वाक्य पर चलने वाले हैं हम और इस मौके पर सपा पूर्व जिलाध्यक्ष प्रताप चौहान , पूर्व महानगर अध्यक्ष महेंद्र यादव आदि समेत नेता मौजूद रहे।

 

 

*जिनका चरित्र ठीक नहीं, वो ही छोड़ रहे हैं सपा*

 

सपा में मची लोकसभा चुनाव से पहले भगदड़ को लेकर

श्रीपाल अवाना ने कहा कि जिन लोगों का चरित्र ठीक नहीं हैं. वह बिना काम के हैं और बिन पेंदी के लोटे हैं. उन्हें तैरना नहीं आता हैं. जहां जाएंगे वहां डूबेंगे ही और हम हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश यादव की नीतियों पर चल कर ही समाज के लिए काम करेंगे और अगर मैं चुनाव जीतता हूं तो सबसे पहले किसानों के हितों के लिए काम करूंगा।‌

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.