• May 29, 2024

सूट बूट वाले चोरों से हो जाइए सावधान , नोएडा पुलिस ने किया सूट-बूट वाली गैंग का खुलासा

 सूट बूट वाले चोरों से हो जाइए सावधान , नोएडा पुलिस ने किया सूट-बूट वाली गैंग का खुलासा

नोएडा

*सूट बूट वाले चोरों से हो जाइए सावधान , नोएडा पुलिस ने किया सूट-बूट वाली गैंग का खुलासा*

 

रिपोर्ट :- योगेश राणा

 

नोएडा: सूट बूट वाले चोरों से हो जाइए सावधान अगर आपके आसपास बंद पड़े घरों के पास सूट-बूट पहन कर कोई व्यक्ति घूमता दिखाई दे तो हो जाइए सावधान। क्योंकि नोएडा के थाना 39 कोतवाली ने ऐसे ही एक गैंग का खुलासा किया है। जो सूट बूट पहन कर पहले घर/ मकानों की रेकी करते हैं और उसके बाद वारदात को अंजाम देकर दूसरे राज्यों में रफूचक्कर हो जाते थे और अब तक 50 से अधिक घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं और इन पर अभी तक 12 मामले दर्ज हैं। इस गैंग को पकड़ने के लिए नोएडा पुलिस को लगभग 1200 कैमरों के साथ साथ कई राज्यों की खाक छानी पड़ी तब जाकर यह गैंग नोएडा पुलिस के हत्थे चढ़े हैं।

 

 

*इस गैंग के बारे में क्या कुछ कहा नोएडा के एडीसीपी ने*

 

एडीसीपी शक्ति अवस्थी ने बताया कि पकड़े गए दोनों चोर शातिर किस्म के अपराधी हैं। यह चोरी की घटना को अंजाम देते समय सूट—बूट में सेक्टरों में जाते थे। इसलिए किसी को को इन पर आज तक शक नहीं हुआ। ये बंद पड़े मकानों की रेकी करते थे और फिर मौका देखकर चोरी की घटना को अंजाम देकर रफूचक्कर हो जाया करते थे। इनके खिलाफ नोएडा में एक दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज हैं। इस गैंग के दो आरोपी अब भी फरार हैं, जिनकी तलाश की जा रही है।

 

*टीम को लीड कर रहे एसीपी रजनीश वर्मा ने बताया कि* कोतवाली 39 क्षेत्र में करीब 25 दिन पहले एक मकान में चोरी की घटना को अंजाम दिया गया था। इस गैंग ने ही वो चोरी की थी। चोरी की घटना को अंजाम देने के बाद ये दूसरे राज्यों में भाग जाया करते थे। पुलिस ने इनको पकड़ने के लिए दिल्ली, हरियाणा और पंजाब जिले के 1200 से

अधिक सीसीटीवी फुटेज को खंगाला है। पकड़े गए आरोपियों की पहचान सिराजुद्दीन उर्फ सिराज और शहजाद उर्फ पहलवान के रूप में हुई है। पुलिस को इन बदमाशों के कब्जे से एक तमन्चा 315 बोर, 02 जिन्दा कारतुस 315 बोर, 07 तोला सोना, घटना में प्रयुक्त एक स्कूटी तथा घटना में प्रयुक्त लोहे के उपकरण बरामद किया है और पुलिस ने दोनों को जेल भेज दिया है।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.