• July 16, 2024

दिल्ली में साक्षी हत्याकांड को लेकर बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन का आरोपी को फांसी दिए जाने की मांग की है।             

 दिल्ली में साक्षी हत्याकांड को लेकर बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन का आरोपी को फांसी दिए जाने की मांग की है।             

बरेली

दिल्ली में साक्षी हत्याकांड को लेकर बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन का आरोपी को फांसी दिए जाने की मांग की है।                       

रिपोर्ट :- इरफ़ान हुसैन

जनपद बरेली फतेहगंज पश्चिमी _ आज अंतर्राष्ट्रीय बजरंग दल फतेहगंज पश्चिमी के मंडल अध्यक्ष सुधीश सिंह चौहान उर्फ सोनू ठाकुर और भाजपा युवा मोर्चा जिला मंत्री अमन सिंह के नेतृत्व में सभी पदाधिकारी और कार्यकर्ताओ ने मिलकर विरोध प्रदर्शन कर फतेहगंज पश्चिमी विकास खंड अधिकारी को मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री, राजपाल, और राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन देकर आरोपी को फांसी की सजा दिए जाने की मांग की है।

 

फतेहगंज पश्चिमी बजरंग दल के मंडल अध्यक्ष सुधीश सिंह चौहान उर्फ सोनू ठाकुर ने बताया भारत में लव जिहाद के नाम पर मासूम हिंदू बहन बेटियों की हो रही नृशंस हत्या के खिलाफ कानून बनाए जाने व दिल्ली में नाबालिग हिंदू बेटी साक्षी की नृशंस हत्या करने वाले साहिल को फांसी की सजा दिए जाने की मांग को लेकर आज हमने फतेहगंज पश्चिमी खंड विकास अधिकारी को मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री, राज्यपाल, और राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन दिया है।

 

भाजपा युवा मोर्चा के जिला मंत्री अमन सिंह ने बताया कि आए दिन भारत के अंदर कट्टरवादी इस्लामिक मानसिकता रखने वाले लोग अपना नाम बदलकर व धर्म छिपाकर मासूम हिंदू बहन बेटियों को लव जिहाद के नाम पर बहलाते फुसलाते हैं और उनका धर्मांतरण करवाकर नरक की जिंदगी जीने के लिए विवश करते हैं। हिंदू लड़की के द्वारा इस्लाम स्वीकार न करने पर उसको बर्बरता पूर्ण मौत के घाट उतार दिया जाता है। विदित हो दिल्ली में साहिल नाम के इस्लामिक कट्टरपंथी व्यक्ति ने नाबालिग हिंदू बेटी साक्षी को सिर्फ इसलिए मौत के घाट उतार दिया क्योंकि उस हिंदू नाबालिग बेटी ने साहिल के जिहादपूर्ण प्रेम प्रस्ताव और उसके साथ शादी करने से मना कर दिया। हिंदू नाबालिग बेटी साक्षी के शरीर पर 40 से भी अधिक बार चाकू से हमला किया गया और फिर पत्थर से पीट पीट कर मौत के घाट उतार दिया गया। जब साहिल की गिरफ्तारी हुई उस समय साहिल के हाथ में कलावा और गले में रुद्राक्ष की माला थी। इससे सिद्ध होता है कि आज भारत में बड़े स्तर पर हिंदू लड़कियों को लव जिहाद के तहत षडयंत्र में फंसाकर धर्मांतरण और मौत के मुंह में धकेला जा रहा है। ये बर्बर कृत्य करने के लिए भारत के मदरसों और मस्जिदों में मुस्लिम युवाओं को प्लानिंग के तहत शिक्षा दी जाती है। ऐसी राक्षसी प्रवृत्ति रखने वालों को समाज में जीने का कोई अधिकार नहीं है। ऐसे बर्बर लोगों के खिलाफ संसद में सख्त कानून बनाए जाने की आवश्यकता है।

 

भाजपा के जिला सोशल मीडिया विशेषज्ञ जतिन चौहान ने बताया कुछ लोग अपनी असली पहचान व धर्म छुपाकर हिंदू लड़कियों को लव जिहाद के तहत प्रेमजाल में फंसाने वाले कट्टरपंथी लोगों के खिलाफ संसद में कानून बने। जिसके तहत अपराध सिद्ध होने पर ऐसे दरिंदों को फांसी की सजा मिले।

2.नाबालिग हिंदू बेटी साक्षी को बर्बरता पूर्ण मौत के घाट उतारने वाले साहिल के खिलाफ फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई कर फांसी की सजा दी जाए।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.