• June 15, 2024

Cyclone Biparjoy तो कराची जा रहा था, फिर अचानक क्यों बदल लिया गुजरात का रास्ता?

 Cyclone Biparjoy तो कराची जा रहा था, फिर अचानक क्यों बदल लिया गुजरात का रास्ता?

Cyclone Biparjoy: भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, गुजरात में बहुत ही गंभीर चक्रवाती तूफान बिपारजॉय तटीय क्षेत्र की ओर बढ़ रहा है। सौराष्ट्र और कच्छ के तटीय जिलों में आज कुछ स्थानों पर भारी वर्षा के साथ हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है। 15 जून को वर्षा की तीव्रता में वृद्धि होगी, कुछ स्थानों कच्छ, देवभूमि द्वारका और जामनगर में अलग-अलग स्थानों पर अत्यधिक भारी वर्षा होगी और पोरबंदर, राजकोट, मोरबी  और जूनागढ़ जिले में कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होगी।

6 जून को उठा था चक्रवात बिपरजॉय

बिपरजॉय चक्रवात 6 जून को दक्षिण के अरब सागर में उठा था। शुरुआत में इसका असर केरल में देखने को मिला था। उस समय कहा जा रहा था कि बिपरजॉय  पाकिस्तान के कराची की ओर बढ़ रहा है। इसे लेकर पाकिस्तान की शहबाज सरकार ने रेड अलर्ट जारी किया था, लेकिन अचानक तूफान ने अपना रास्ता बदला और वह गुजरात की ओर बढ़ने लगा। वैज्ञानिकों के अनुसार, ये कोई बड़ी बात नहीं है। कभी-कभी चक्रवात हवा के दवाब के कारण अपना रास्ता बदल लेते हैं।

पाकिस्तान में भी मचा सकता है तबाही

बिपरजॉय को लेकर कहा जा रहा था कि ये पाकिस्तान के कराची में भारी तबाही लेकर आएगा लेकिन इसने तो अचानक रास्ता बदल लिया है। हालांकि अभी भी पाकिस्तान के कई समुद्री इलाकों में अलर्ट जारी किया गया है। एक सरकारी आदेश में लोगों को समुद्र तटों से दूर रहने के निर्देश दिए गए हैं। कराची के कमिश्नर ने तो बाकायदा आदेश जारी कर समुद्र तटों पर लोगों के जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। वहीं दक्षिणी सिंध प्रांत में निचले इलाकों में से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है।

15-16 जून को गुजरात के तट से टकराएगा बिपरजॉय

मौसम विभाग का कहना है कि 15-16 जून तक ये चक्रवात गुजरात के जखाऊ पोर्ट से टकराएगा। इसे लेकर अलर्ट जारी हो चुका है। 14-15 जून को गुजरात के कच्छ, द्वारका, पोरबंदर, जामनगर, मोरबी, जूनागढ़ और राजकोट बिपरजॉय की चपेट में आ जाएंगे। IMD के अनुसार इन जिलों में 14 और 15 जून को तेज बारिश हो सकती है। वहीं 16 जून के बाद इसका असर नॉर्थ गुजरात से सटे राजस्थान के इलाकों में भी पड़ेगा। बिपरजॉय से निपटने के लिए गुजरात में SDRF की 10 तो NDRF की 12 टीमें तैनात की गई हैं।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.