• May 29, 2024

Cyclone Biparjoy बहुत गंभीर तूफान में बदला, सौराष्ट्र और कच्छ के तटवर्ती इलाकों के लिए रेड अलर्ट जारी

 Cyclone Biparjoy बहुत गंभीर तूफान में बदला, सौराष्ट्र और कच्छ के तटवर्ती इलाकों के लिए रेड अलर्ट जारी

नई दिल्ली: अरब सागर के पूर्वोत्तर इलाके में उठा चक्रवाती तूफान अब बहुत गंभीर हो चला है। पिछले 6 घंटों के दौरान यह 3 किमी प्रति घंटे की रफ्तार साथ उत्तर दिशा की ओर बढ़ रहा है। आज सुबह यह तूफान जखाऊ पोर्ट (गुजरात) से 280 किमी दूर पश्चिम-दक्षिण पश्चिम में केंद्रित था। वहीं देवभूमि द्वारका से यह 290 किमी पश्चिम-दक्षिण पश्चिम में केंद्रित है।

लगातार आगे की ओर बढ़ रहा है तूफान

यह तूफान गुजरात के तटवर्ती इलाके नलिया से 350 किमी पश्चिम-उत्तर पश्चिम में, पोरबंदर से 350 किमी पश्चिम-उत्तर पश्चिम में और पाकिस्तान के कराची से करीब 340 किमी दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में केंद्रित है। यह तूफान लगातार आगे की ओर बढ़ रहा है।

कल शाम लैंडफॉल के आसार

यह तूफान उत्तर पूर्व की ओर बढ़ते हुए सौराष्ट्र और कच्छ को पार करेगा। 15 जून की शाम को मांडवी (गुजरात) और कराची (पाकिस्तान) के बीच जखाऊ पोर्ट (गुजरात) पर इस तूफान का लैंडफॉल होने की संभावना है।

तूफान बिपरजॉय को लेकर एनडीआरएफ की तैनाती

गुजरात और दमन दीव के लिए NDRF की 19 टीम। 17 टीमों को तैनात किया गया। 1 टीम रिज़र्व और 1 कंट्रोल रूम में

  1. कच्छ – 4 टीम
  2. राजकोट- 3 टीम
  3. द्वारका – 3 टीम
  4. पोरबंदर-1 टीम
  5. जामनगर- 2 टीम
  6. जूनागढ़ में-1 टीम
  7. सोमनाथ में-1 टीम
  8. दीव- 1 टीम
  9. वलसाड- 1 टीम
  10. मोरबी- 1 टीम
  11. गांधीनगर -1 टीम

महाराष्ट्र में कुल 14 NDRF की टीम तैनात है-  6 टीमें तैनात हैं और 8 टीम रिज़र्व है

  1. मुंबई में- 5 टीम तैनात
  2. कर्नाटक में- 4 टीम तैनात

अब तक 45 हजार से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा जा चुका है।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.