• May 29, 2024

WTC Final: ओवल की पिच पर स्पिनरों को मिलेगा फायदा! सामने आई सबसे बड़ी भविष्यवाणी

 WTC Final: ओवल की पिच पर स्पिनरों को मिलेगा फायदा! सामने आई सबसे बड़ी भविष्यवाणी

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) का फाइनल मुकाबला लंदन के केनिंग्टन ओवल में खेला जाना है। इस महामुकाबले से पहले यहां की पिच को लेकर काफी चर्चा हो रही है। कई दिग्गजों की पिच के मिजाज को लेकर अलग-अलग राय है। जहां डैनियल विटोरी ने इस पिच के दिन आगे बढ़ते हुए स्पिन के मददगार होने की बात कही थी, तो रोहित शर्मा ने इस महामुकाबले से पहले इस पिच पर उछाल की संभावना जताई थी। अब इस पिच को लेकर बड़े मैच से पहले एक दिग्गज ने भविष्यवाणी की है।

बुधवार को होने वाली इस कांटे की टक्कर से पहले पिच को लेकर दिग्गज सचिन तेंदुलकर ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने इस पिच को स्पिन की मददगार बताया है। साथ ही सचिन का यह भी मानना है कि, इस पिच पर भारतीय टीम अधिक आत्मविश्वास के साथ मैदान पर उतरेगी। आपको बता दें कि लंबे समय से यह चर्चा हो रही है कि रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा साथ खेलेंगे या फिर दोनों में से कोई एक नजर आएगा। गौरतलब है कि 2021 में साउथैम्पटन में न्यूजीलैंड के खिलाफ हुए फाइनल मुकाबले में दोनों खिलाड़ी साथ खेलते नजर आए थे।

 

 

ओवल में भारत को होगा फायदा

भारत के पास रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा के रूप में दो शानदार स्पिनर हैं। इसको लेकर सचिन तेंदुलकर ने कहा कि,  पिच को देखते हुए भारत फायदे में दिखता है। भारतीय टीम खुश होगी कि वह ओवल में खेलने जा रही है। ओवल की पिच का नेचर इस तरह से है कि वह मैच आगे बढ़ने के साथ स्पिनरों को मदद पहुंचाती है। इसलिए स्पिनरों की भूमिका अहम होगी। इसके लिए जरूरी नहीं है कि हमेशा टर्निंग विकेट की ही जरूरत पड़े। कभी-कभी स्पिनर पिच से मिल रही उछाल का भी फायदा उठाते हैं। उन्हें बादल छाए रहने की परिस्थितियों में भी पिच से मदद मिल सकती है तथा काफी कुछ गेंद के चमकदार हिस्से पर निर्भर करता है। इन सब कारणों से ओवल भारत के लिए अच्छा स्थान है।

sachin tendulkar

 

ओवल में भारत को मिली थी ऐतिहासिक जीत

भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ 2021 में ओवल में 157 रन से शानदार जीत दर्ज की थी और तेंदुलकर ने कहा कि उसमें से जुड़ी अच्छी यादें भारत के काम आएंगी। निश्चित तौर पर जब आपके पास इस तरह की अच्छी यादें हों तो वे आपके साथ बनी रहती हैं। भारतीय टीम को यह नहीं भूलना चाहिए कि पिछली बार उसने यहां शानदार परिणाम हासिल किया था। उन्होंने मैच जीता था और जैसे मैंने कहा कि अच्छी यादें लंबे समय तक आपके साथ बनी रहती हैं। इसी तरह से ऑस्ट्रेलिया को 2019 में खेले गए एशेज टेस्ट मैच में इंग्लैंड से 135 रन से हार का सामना करना पड़ा था लेकिन तेंदुलकर ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई टीम बेहद प्रतिस्पर्धी है। हार को पचाने में थोड़ा समय लगता है लेकिन ऑस्ट्रेलिया की टीम बहुत अच्छी और बेहद संतुलित है।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.