• May 29, 2024

पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था गधों के भरोसे! तीन साल में 3 लाख गधे बढ़े, बेचेंगे चीन को

 पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था गधों के भरोसे! तीन साल में 3 लाख गधे बढ़े, बेचेंगे चीन को

Pakistan News: पाकिस्तान में गधों की संख्या अन्य देशों के मुकाबले काफी ज्यादा है। इसी बीच पाकिस्तान इकोनॉमिक (पीईएस) 2022-23 से पता चला है कि पड़ोसी देश पाकिस्तान में गधों की संख्या में और इजाफा हुआ है। पहले ही पाकिस्तान में बहुत गधे हैं, लेकिन पिछले कुछ वर्षों में गधों की संख्या और बढ़ी है। वर्ष 2019-20 में पाकिस्तान में 55 लाख गधे थे जो 2020-21 में बढ़कर 56 लाख हो गए।

इसी बीच 2022-23 का जो सर्वे आया है वो बताता है कि गधों की संख्या बढ़कर 57 लाख से बढ़कर 58 लाख हो गई है। यानी पिछले एक साल में एक लाख गधे पाकिस्तान में और बढ़ गए। यानी पिछले एक साल में देश में एक लाख गधे बढ़ गए हैं। ये गधे कंगाली की हालत से गुजर रहे पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था को सहारा देते हैं। क्योंकि गधों को पाकिस्तान सरकार इन गधों को चीन को निर्यात करती है।

गधों को बेचकर पैसे कमाता है पाकिस्तान

कंगाल पाकिस्तान अपने देश का खर्च चलाने के लिए जो करे वो कम है। कभी अमेरिका में बने अपने होटल को गिरवी रखता है, कभी चीन को गधे और अन्य मवे​शी बेचकर धन राशि प्राप्त करता है। वैसे चीन गधों की संख्या में दुनिया में पहले नंबर पर है, लेकिन वहां गधों की डिमांड के चलते पाकिस्तान अपने गधे चीन को बेचता है। ताजा आंकड़ों से पता चला है कि वित्त वर्ष 2023 के दौरान पशुधन क्षेत्र खेती मूल्य का लगभग 62.68 फीसदी है, जो देश की जीडीपी में 14.36 फीसदी  का योगदान करता है। यह पिछले साल 2.25 प्रतिशत की तुलना में 3.78 प्रतिशत की दर से बढ़ा है।

गधे ही नहीं, भैंसों की संख्या भी बढ़ी

यदि अन्य मवेशियों की बात की जाए तो सर्वे के मुताबिक पाकिस्तान में गधों के अलावा भैंसों की संख्या में भी बढ़ोतरी हुई है। भैंसों की जो संख्या पिछले फाइनेंशियल ईयर में 43.7 मिलियन थी, वो बढ़कर 45 मिलियन तक पहुंच गई है। वहीं ताजा आंकड़ों के मुताबिक अन्य मवेशियों की बात की जाए तो भेड़ों की संख्या 32.8 मिलियन और बकरियों की संख्या 84.7 मिलियन ​हो गई है।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.