• July 16, 2024

ब्रा कंपनी से चुराकर मुस्लिम देशों को भेजा 15 लाख हिंदू लड़कियों का डेटा, शिकंजे में हैकर

 ब्रा कंपनी से चुराकर मुस्लिम देशों को भेजा 15 लाख हिंदू लड़कियों का डेटा, शिकंजे में हैकर

राजस्थान स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) ने ऑनलाइन लेडीज अंडर गारमेंट सप्लाई करने वाले वाली एक कंपनी का सर्वर हैक कर 15 लाख हिंदू महिलाओं का डेटा चोरी करने के आरोपी संजय सोनी को उदयपुर से गिरफ्तार किया है। दावा किया था कि डेटा इस्लामिक देशों को भेजा और बेचा जा रहा है।

Trending Videos

उदयपुर निवासी आरोपी संजय सोनी लेडीज अंडर गारमेंट सप्लाई करने वाली एक कंपनी के प्रतिनिधियों को ब्लैकमेल कर पैसे की वसूली कर रहा था। कंपनी के प्रतिनिधि उमेश विजय ने इस संबंध में एसओजी-एटीएस के अंतर्गत साइबर थाने में मामला दर्ज कराया था, जिसमें बताया गया कि कुछ हैकर्स ने कंपनी से जुड़ी महिलाओं की पर्सनल डिटेल का डेटा जैसे-महिलाओं के नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, जन्म तारीख आदि कॉपी कर लिए हैं। इस कंपनी से 92 लाख कस्टमर जुड़े हुए हैं, जिनमें ज़्यादातर महिलाएं हैं। एसओजी ने 30 मई को आरोपी को गिरफ्तार कर शनिवार को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

रेलवे के इनकार करने पर लिखा…
टि्वटर अकाउंट होल्डर ने रेलवे के ग्राहकों के बारे में भी लिखा कि हिंदू लड़कियों का डेटा इस्लामिक देशों को भेजा जा रहा है। उसके ट्वीट पर रेलवे ने कहा कि यह डेटा हमारा नहीं है। तब हैकर ने फिर से लिखा कि अगर आप 80 हजार में से एक नंबर बताएं, तो मैं उसकी लॉगइन डिटेल्स वीडियो बना कर दे देता हूं। मामले की इन्वेस्टिगेशन साइबर थाने की इंस्पेक्टर पूनम चौधरी को सौंपी गई। इन्वेस्टिगेशन में सामने आया कि आरोपी खुद को ट्विटर अकाउंट पर राष्ट्रवादी बताकर दिनभर विवादित पोस्ट शेयर कर रहा था। पुलिस ने उसे ट्रैस करके गिरफ्तार कर लिया।


आरोपी गिरफ्तार

आरोपी ने ये ट्वीट किया…
आरोपी ने ट्वीट किया कि, प्रिय महिलाओं, अब आपका डेटा सुरक्षित नहीं है। क्योंकि यह पहले ही मुस्लिम डोमिनेट ग्रुप्स में सर्कुलेट हो गया है। दूसरे ट्वीट में कई महिलाओं के डेटा का स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए दावा किया कि 40 लाख हिंदू लड़कियों का डेटा मुस्लिम देशों को बेचा जा चुका है।

ई-मेल किया तो लगी जानकारी…
रिपोर्ट में बताया गया कि 24 अप्रैल को हैकर ने ईमेल कर कंपनी को बताया कि आपकी कंपनी के सर्वर को हैक कर लिया गया है और 15 लाख लोगों का डेटा चुरा लिया है। 16 मई को कंपनी को हैशटैग कर ट्वीट किया कि कंपनी से 15 लाख हिंदू लड़कियों का डेटा लीक हो गया है और इस्लामिक देशों में भेजा जा रहा है। 24 मई को फिर से कंपनी की ईमेल पर संदेश भेजकर कहा कि आपके सिस्टम की कमजोरी के कारण हम डेटा उठा सकते हैं। आरोपी ने पैसों की मांग की और करीब 1500 डॉलर वसूल कर लिए। 25 मई को कंपनी से भेजे गए ईमेल को भी ट्वीट कर दिया।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.