• July 16, 2024

विकास कार्यों में गुणवत्ता पर कमी पाई जाने पर सम्बंधित विभाग के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। अरविंद सिंह ह्यांकी।

 विकास कार्यों में गुणवत्ता पर कमी पाई जाने पर सम्बंधित विभाग के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। अरविंद सिंह ह्यांकी।

नैनीताल

विकास कार्यों में गुणवत्ता पर कमी पाई जाने पर सम्बंधित विभाग के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। अरविंद सिंह ह्यांकी।

रिपोर्ट :- ललित जोशी

 

नैनीताल । सरोवर नगरी नैनीताल क्लब मे उत्तराखंड सरकार के सचिव पेयजल, परिवहन, वरिष्ठ स्टाफ आफिसर- मुख्य सचिव अरविंद सिंह ह्यांकी जिला योजना, राज्य सेक्टर, केंद्र पोषित, वाह्य सहायतित विकास योजनाओं की प्रगति और जिला योजना में आवंटित बजट को शत-प्रतिशत खर्च करने के संबंध में अधिकारियों की बैठक ली।

बैठक के दौरान श्री ह्यांकी ने कहा विकास कार्यों पर गुणवत्ता में कमी पाये जाने पर सम्बन्धित विभाग के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी।

बैठक में वन विभागाधिकारी, क्रीड़ा अधिकारी, उरेडा अधिकारियों के अनुपस्थित रहने पर संबंधित के खिलाफ़ दिये कार्यवाही के निर्देश दिये गए।

जिला योजना के अवशेष विकास कार्यों को पूर्ण करने के साथ ही जिला योजना की धनराशि को शत-प्रतिशत समयावधि में व्यय करना सुनिश्चित करें।

 

 

सचिव ने बैठक में उपस्थित सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिला नियोजन समिति ने जब ससमय आपकी स्कीम को स्वीकृति प्रदान कर धनराशि अवमुक्त कर दी है, फिर भी आपके द्वारा प्राप्त धनराशि को वित्तीय वर्ष में खर्च नहीं किया जा रहा है, यह क्षम्य नहीं है। सचिव ने पीडब्ल्यूडी और पेयजल निगम द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों के खराब प्रदर्शन पर नाराजगी जताई व इनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई अमल में लाने के निर्देश मुख्य विकास अधिकारी को दिए। उन्होंने कहा यह बेहद अपमान जनक है कि शासन से सचिवों को जिला योजना की समीक्षा के लिए आना पड़ता है।

उन्होंने कहा कि जिला योजना का पैसा आते ही एक सप्ताह के भीतर विभागों को आवंटित कर दिया जाए, समस्त विभागीय अधिकारियों को अपनी जिम्मेदारी के परिप्रेक्ष्य में जिला योजना से प्राप्त बजट को चालू वित्तीय वर्ष में ही शत-प्रतिशत खर्च कर दिया जाए और साथ ही उच्च गुणवत्ता युक्त विकास कार्यों का निर्माण किया जाए।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक विभाग जिला योजना की धनराशि को शतप्रतिशत व्यय करना सुनिश्चित करें। सचिव ने जिन विभागों द्वारा शत-प्रतिशत जिला योजना खर्च कर ली गई है उनको बधाई दी और जो विभाग अभी तक अपनी जिला योजना खर्च नहीं कर पाए हैं उन्हें शीघ्र जिला योजना खर्च करने के निर्देश दिए।

 

बैठक में सचिव ने कहा कि जिला योजना के रूप में जिला स्तरीय विकास कार्यों के लिए जिला योजना सुनहरा अवसर है जिसके बिहाप पर आप अपनी इच्छानुसार कार्य करते हैं लेकिन फिर भी आप जिला योजना को खर्च नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने समस्त विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि समय से ही कार्यदायी संस्था का चयन कर स्वीकृत कार्यों को कराने का कार्य किया जाए।

सचिव ने मतदाता दिवस के अवसर पर बैठक में उपस्थित समस्त विभागीय अधिकारियों को मतदान की महत्ता के दृष्टिगत मतदाता शपथ दिलाई।

 

बैठक में ईई पेयजल निगम नैनीताल ने बताया कि जिला योजनांतर्गत उनको 200 लाख रुपए की धनराशि उपलब्ध हुई है जिनमें से 80 लाख की धनराशि खर्च कर दी गई है और लाख 60 रुपए की धनराशि के बिल कार्यालय में लम्बित हैं, जिस पर सचिव ने तत्काल प्रभाव से बिल भुगतान का कार्य करने के निर्देश दिए, उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिए कि बिल भुगतान की सूचना प्राप्त कर अवगत कराए।

 

बैठक में जिलाधिकारी वंदना सिंह ने सभी विभागीय अधिकारियों को तत्परता के साथ लंबित कार्यों को पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा निकट भविष्य में सामान्य लोकसभा चुनाव भी होने हैं, जिसके सफल संपादन के लिए सभी विभागीय अधिकारियों को कार्य की व्यस्तता रहेगी, इसलिए प्राथमिकता के साथ जिला योजना के अवशेष कार्य को पूर्ण करने के साथ ही जिला योजना की धनराशि को शत-प्रतिशत खर्च करना सुनिश्चित करें।

उक्त बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अशोक कुमार पाण्डे, मुख्य कृषि अधिकारी डा0 वीके यादव, अर्थ एवम संख्या अधिकारी डा0 मुकेश सिंह नेगी, मुख्य शिक्षा अधिकारी जगमोहन सोनी, आरटीओ संदीप सैनी, ईई पीडब्ल्यूडी, ईई जल निगम, ईई जल संस्थान, प्रभारी मुख्य चिकत्सा अधिकारी, जिला खाद्य पूर्ति अधिकारी सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.