• April 14, 2024

Big success of Noida Police. Arrested swindler of Rs 400 crores from Mahadev app and collection of thugs from international countries including Dubai

 Big success of Noida Police. Arrested swindler of Rs 400 crores from Mahadev app and collection of thugs from international countries including Dubai

*नोएडा पुलिस को मिली बड़ी सफलता*

*महादेव ऐप से 400 करोड रुपए की ठगी करने वाले गिरफ्तार व दुबई सहित अंतरराष्ट्रीय देशों से ठगों का निकला कलेक्शन*

नोएडा: नोएडा पुलिस के हाथों लगी बड़ी कामयाबी थाना सेक्टर-39 पुलिस ने ऑनलाइन गेम के माध्यम से पैसा डबल करने के बहाने फ्रॉड करने वाले 16 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इन सभी ने फर्जी गेम खिलाकर देशभर के लोगों से 400 करोड रुपए ठग लिए है। इसमें से पुलिस ने 1 करोड़ 86 लाख सीज करवा दिया है। आरोपियों ने 20 से अधिक बैंक अकाउंट में पैसों की हेराफेरी की है। इस ऐप का मुख्य सरगना दुबई में बैठकर ऑपरेट करता है। इस ऐप के पाकिस्तान से भी तार जुड़े हुए मिले है। डीसीपी हरीश चंद ने बताया कि डी 309 के सेक्टर-108 में फर्जी ऑनलाइन गेमिंग फ्रॉड का संचालन पिछले करीब 1 महीने से हो रहा था। इसकी भनक नोएडा पुलिस को लगी सूचना के आधार पर एसीपी प्रथम रजनीश वर्मा के नेतृत्व में छापेमारी करके 16 लोगों को मौके से गिरफ्तार किया गया है। इसमें से अधिकतर लोग पूर्वी उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं‌ और महादेव बुक ऐप के जरिए लोगों को अपने झांसे में फंसा कर लाखों रुपए की ठगी करते थे। साथ ही सोशल मीडिया के जरिए लोगों से संपर्क करके गेम खेल कर के पैसे कमाने का झांसा देते थे। डीसीपी ने बताया कि गेम की शुरुआत 500 रुपए से शुरू होती थी। गेम में हारे हुए कस्टमर को जीता हुआ दिखाकर उनको पैसे डबल कर के भेज दिया जाता था। इस वजह से लोग इनके झांसे में आने लगे और गेम में लाखों रुपए लगाने लगे। गेम में अगर अमाउंट एक लाख से अधिक हो जाता था तो यह ठग खेल रहे कस्टमर का अकाउंट ब्लॉक कर के पैसे को ट्रांजैक्शन कर लिया करते थे। टीम को लीड कर रहे एसीपी रजनीश वर्मा ने बताया कि इस ऐप का मास्टरमाइंड दुबई में बैठकर सौरभ चंद्राकर है। हर महीने सौरभ महादेवा बुक ऐप से 300 करोड़ रुपए की कमाई करता है। दुबई के अलावा नेपाल और थाईलैंड में बैठे अन्य आरोपी भी इस गेम को चलवा कर लोगों से ठगी कर रहे थे। इस खेल में लाए गए अन्य फर्जी बैंक खातों की जानकारी हासिल की जा रही है। इस खेल का नेटवर्क, नेपाल बांग्लादेश श्रीलंका समेत 11 देशों में फैला हुआ है अभियुक्तों से मिली जानकारी के आधार पर अन्य आरोपियों को जल्द पकड़ने के लिए दबिश दी जा रही है। जल्द उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। वहीं पुलिस आयुक्त गौतमबुद्धनगर ने टीम को 50000 रूपए का पुरस्कार देने की घोषणा की है। वहीं टीम के उत्कृष्ट कार्य के लिए एवं उत्साहवर्धन करने के लिए पुलिस आयुक्त लक्ष्मी सिंह शासन को भी रिपोर्ट भेजेंगी

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.