• June 15, 2024

आशिकी में मां ने अपनी ही 8 वर्षीय संतान को उतारा मौत के घाट, पहले जहर पिलाकर हत्या करने का किया प्रयास फिर भी बात नहीं बनी तो पानी में डूबों के मारा!*

 आशिकी में मां ने अपनी ही 8 वर्षीय संतान को उतारा मौत के घाट, पहले जहर पिलाकर हत्या करने का किया प्रयास फिर भी बात नहीं बनी तो पानी में डूबों के मारा!*

ग्रेटर नोएडा

*आशिकी में मां ने अपनी ही 8 वर्षीय संतान को उतारा मौत के घाट, पहले जहर पिलाकर हत्या करने का किया प्रयास फिर भी बात नहीं बनी तो पानी में डूबों के मारा!*

रिपोर्ट :- योगेश राणा

ग्रेटर नोएडा: गेटर नोएडा से चौंकाने वाला मामला सामने आया। आज तक आपने सुना था कि पूत कपूत हो सकता है पर माता नहीं कुमाता अर्थात मां की करुणा और दया सदैव संतानों पर बरसती है। मां का प्रत्येक स्वरूप वात्सल्य का प्रतीक है। मगर गौतमबुधनगर के थाना बादलपुर में एक माता बनी कुमाता एक महिला को अपने 8 साल के बेटे की निर्मम हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है। सेन्ट्रल नोएडा डीसीपी अनिल कुमार यादव ने बताया कि बादलपुर थाने में 5 जुलाई को कल्याण ने शिकायत दर्ज कराई कि उसका आठ वर्षीय बेटा अंकित दो जुलाई से लापता है। 7 जुलाई को संभल जिले में लापता अंकित का शव के सड़क किनारे मिला। पुलिस ने बच्चे के शव का पोस्टमॉर्टम करवाया जिसमें खुलासा हुआ कि पहले जहरीला पदार्थ देकर उसकी हत्या करने की कोशिश की गई लेकिन जब मौत नहीं हुई तो पानी में डुबोकर उसे मारा गया। डीसीपी अनिल कुमार यादव ने बताया कि संभल पुलिस की सूचना के आधार पर बादलपुर थाना पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। उन्होंने बताया कि हत्या के आरोप में बच्चे की मां भूरी चाचा मानक, भूरी के प्रेमी ओमपाल और भूरी की भतीजी के ससुर अमर सिंह को गिरफ्तार किया है। महिला ने
पूछताछ के दौरान स्वीकार किया है कि ओमपाल से उसके अवैध संबंध थे और बच्चे ने उसे आपत्तिजनक अवस्था में देख लिया था। उन्होंने बताया कि बच्चा जब अपने गाँव गया तो उसने अपने चाचा मानक को पूरी घटना बताई लेकिन मानक के भी भूरी से कथित अवैध संबंध थे। पुलिस ने आरोपियों को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है।

Related post

Leave a Reply

Your email address will not be published.